Thursday, September 1, 2016

नार्थ बे का दीप स्तंभ यानी लाइट हाउस ((24))

अंदमान के नार्थ बे द्वीप पर स्थित है लाइट हाउस। ये लाइट हाउस 1969 का बना हुआ है। यह छह मंजिला है। लाइट हाउस क्यों बनाए जाते हैं। ज्यादातर लोगों को इसका जवाब मालूम होगा। ये समंदर में आ जा रहे जहाजों को रास्ता दिखाने का काम करते हैं। इससे पहले मैंने त्रिवेंद्रम के कोवलम बीच, महाबलीपुरम आदि में लाइट हाउस देखे हैं। नार्थ बे का लाइट हाउस काफी आकर्षक लगता है देखने में। इस पर लाल और सफेद रंग की पट्टियां लगी हैं।
नार्थ बे पर पहुंचने के बाद छोटे से बाजार से 200 मीटर की पदयात्रा करने के बाद आप लाइट हाउस तक पहुंच सकते हैं। मैं नार्थ बे पर पहुंचा हूं तो मेरी रूचि वाटर स्पोर्ट्स में नहीं है। लिहाजा मैं अपने समय का सदुपयोग लाइट हाउस देखने में करता हूं। लाइट हाउस के रास्ते में मुझे दो विदेशी नागरिक मिलते हैं जो लाइट हाउस देखकर लौट रहे हैं। 


लाइट हाउस तक जाने के लिए पक्की पगड़ंडियां बनी हैं। बारिश हो रही है। मैंने छाता खोल लिया है। पर रास्ता फिसलन भरा है। सावधानी से चलना पड़ रहा है। लाइट हाउस के परिसर में हरियाली है। कई तरह के फूल भी खिले हैं। मन यहां से वापस लौटने को नहीं करता है। यहां आने पर पता चलता है कि लाइट हाउस पर चढ़ाई भी की जा सकती है। चढ़ने के लिए महज 10 रुपये का टिकट है। बच्चों के लिए टिकट 3 रुपये का है। लेकिन साथ ही लिखा गया है कि चढ़ने में सेहत संबंधी रिस्क हो सकता है। आप समूह में अपनी सुविधा से चढ़ सकते हैं। लाइट हाउस के साथ वायरलेट, बैटरी और इंजन रूम बना हुआ है। यहां सुबह 10 से दोपहर दो बजे तक चढ़ने का उपक्रम किया जा सकता है। मैं लाइट हाउस की ऊंचाई देखकर वापस लौट आता हूं। यह लाइट हाउस यानी दीप स्तंभ भारत सरकार के पोत परिवहन मंत्रालय के अंतर्गत आता है।

हमारे बोट ने हमें नार्थ बे पर दो घंटे का समय दे रखा है। दरअसल नार्थ बे वाटर स्पोर्ट्स की एक्टिविटी वाला बीच है। इस दौरान बोट में आने वाले ज्यादातर लोग सी वाक, स्कूबा डाइविंग और स्नोरकेलिंग के मजे लेते हैं। ये सब वाटर गेम महंगे हैं। स्नोरकेलिंग 300 से 400 रुपये में की जा सकती है। सी वाक के लिए 2000 और स्कूबा डाइविंग के लिए यहा 2500 रुपये लिए जा रहे हैं। हालांकि स्कूबा डाइविंग के लिए 3500 है पर अभी ऑफ सीजन डिस्काउंट चल रहा है। इसके लिए खास तरह का ड्रेस और आक्सीजन के सिलिंडर आदि उपलब्ध कराए जाते हैं। डाइविंग करने वाले लोगों को एक प्रमाण पत्र भी दिया जाता है। इसके साथ ही स्टील फोटो और वीडियो बनाकर उसकी सीडी भी सौंपी जाती है। नार्थ बे  पर दो कंपनियां हैं जो वाटर स्पोर्ट्स में सक्रिय हैं। इनमें एक है डाइव ओसन। जब आप स्कूबा डाइविंग करते हैं तो आपके साथ एक प्रशिक्षक हमेशा साथ होता इसलिए इसमें कोई खतरा नहीं है। इस तरह के वाटर स्पोर्ट्स के लिए एजेंट मरीन पार्क में ही सक्रिय रहते हैं। वे कोशिश करते हैं कि ज्यादा से ज्यादा लोग इन गतिविधियों में हिस्सा लें ताकि उनकी कमाई में इजाफा हो। आगे आपकी मर्जी।

अगर आप ये सब नहीं करना चाहते तो नार्थ बे के नैसर्गिक सौंदर्य का आनंद लें। वहां के स्थानीय लोगों से वार्ता करें। इसमें भी मजा आएगा। चाय पकौड़े और नारियल पानी के साथ प्रकृति के नजारों का मजा लें। कब वक्त कट जाता है पता ही नहीं चलता। आपके साथ देश के अलग अलग राज्यों से आए हुए लोगों का समूह होता है जो नार्थ बे के सफर को और रोमांचक बनाते हैं।      
( NORTH BAY, LIGHT HOUSE, PORT BLAIR, ANDAMAN, SEA WALK, JET SKII, SNORKELING, SPEED WATER BOAT )


No comments:

Post a Comment