Saturday, April 5, 2014

गंगा सागर - भारत सेवाश्रम संघ में विश्राम (5)

गंगा सागर में यूथ होस्टल। 
बड़ी संख्या में गंगा सागर जाने वाले लोग कोलकाता से सुबह यात्रा शुरू करते हैं और स्नान दान करने के बाद शाम तक लौट आते हैं। पर इसमें काफी जल्दीबाजी करनी पड़ती है। इसलिए आराम से यात्रा करने वाले गंगा सागर में रात्रि विश्राम कर सकते हैं।
पश्चिम बंगाल सरकार की ओर से यूथ हास्टल का निर्माण कराया गया है। इसकी बुकिंग कोलकाता से भी कराई जा सकती है। यहां रहने का सुंदर इंतजाम है।
गंगा सागर में ठहरने के लिए सबसे अच्छी जगह भारत सेवाश्रम संघ है। यब बस स्टैंड के पास ही स्थित है। यहां अकेले पहुंचने वालों को आवास नहीं मिलता है। समूह में जाने वाले और परिवार के साथ पहुंचे लोगों का स्वागत है। यहां अटैच टायलेट वाले कमरे उपलब्ध कराए जाते हैं। कमरे के लिए कोई तय राशि नहीं है। आपको आश्रम को दान देना पड़ता है जिसकी रसीद मिलती है। यह एक कमरे के लिए कम से कम 200 रुपये हो सकती है।
भारत सेवाश्रम संघ गंगा सागर। 
आश्रम में दिन में भोजन भी मिलता है। आश्रम परिसर में एक सुंदर मंदिर भी है जिसमें आप सुबह शाम पूजा में हिस्सा ले सकते हैं। आश्रम के आसपास दैनिक जरूरत की वस्तुओं की दुकाने हैं। बस स्टैंड बिल्कुल बगल में है इसलिए सुबह में कोलकाता जाने के लिए बसें यहीं से मिल जाती हैं। संघ की वेबसाइट है - http://www.bharatsevashramsangha.net/ भारत सेवाश्रम दिल्ली की वेबसाइट- http://www.bssdelhi.com/ 

दिल्ली में इसका आश्रम श्रीनिवासपुरी इलाके में स्थित है। भारत सेवाश्रम की स्थापना स्वामी प्रणवानंद ने की थी। पहला आश्रम बांग्लादेश में खोला था। अब देश के प्रमुख शहरों में आश्रम की शाखाएं हैं। आश्रम कई तरह के समाजसेवा के प्रकल्प चलाता है।
भारत सेवाश्रम संघ गंगा सागर। 
भारत सेवाश्रम का आश्रम गया में भी है जिसका पता है - भारत सेवाश्रम गया -  स्वराजपुरी रोड, नागमटिया कालोनी, गया-823001 फोन- 0631 -2220929



और भी हैं ठहरने के विकल्प - गंगा सागर में आप कपिल मुनि आश्रम में भी ठहर सकते हैं। इसके अलावा कोलकाता वस्त्र व्यवसायी सेवा समिति का भी बड़ा आवास गृह बना है। पर इसके लिए कोलकाता में ही बुकिंग करानी पड़ती है। पता है – 15बी आर्मेनियन स्ट्रीट, कोलकाता। फोन- मनोज कुमार जैन 93398-21567, विवेक अग्रवाल - 98307-97397  

गंगा सागर मेले के समय यहां बड़ी संख्या में अस्थायी आवास का भी निर्माण कराया जाता है। अभी तक गंगा सागर में रहने के लिए कोई होटल उपलब्ध नहीं है। हां इन आश्रम में रहने के दौरान मच्छरों से बचने के लिए गुट नाइट क्वाएल और ओडोमास जैसे सुरक्षात्मक उपायों का इंतजाम जरूर रखें।
-    विद्युत प्रकाश मौर्य
( GANGASAGAR, SUNDARBAN, BENGAL) 
गंगा सागर यात्रा को शुरुआत से पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें। 

No comments:

Post a Comment