Saturday, July 20, 2013

साईं बाबा ने कहा था एक दिन हजारों लोग आएंगे


शिरडी के बारे में साईं बाबा ने कहा था कि एक दिन यहां हजारों लोग आएंगे। जब ऐसा कहा था तब शिरडी एक वीराना गांव था। वाकई साईं बाबा का प्रताप है कि आज यहां पर न सिर्फ महाराष्ट्र से बल्कि पूरी दुनिया से हजारों लोग हर रोज आते हैं। साईं बाबा को लेकर कई तरह के विवाद उठते हैं कि वे कौन थे,कहां से आए थे किस धर्म को मानते थे। पर इन सबके बीच उनके भक्तों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। न सिर्फ शिरडी में बल्कि देश के तमाम शहरों में साईं बाबा के मंदिर बनते जा रहे हैं।  
साईं बाबा का समाधि मंदिर
शिरडी में साईं बाबा का समाधि मंदिर है। कई श्रद्धालु यहां बाबा की समाधि पर चादर चढ़ाते हैं। यह चादर सवा दो मीटर लंबी और एक मीटर चौड़ी होती है। समान्य दिनों में भी यहां श्रद्धालुओं की इतनी भीड़ होती है कि दर्शन में एक घंटे तो लग ही जाते हैं। गुरुवार को आपको कई घंटे लग सकते हैं। क्योंकि गुरुवार सांई भक्तों के लिए पवित्र दिन माना जाता है।
 
साईं भक्त अब्दुल्ला की झोपड़ी
समाधि मंदिर के अलावा यहां द्वारका माई का मंदिर चावडी और ताजिमखान बाबा चौक पर साईं भक्त अब्दुल्ला की झोपड़ी है। साई बाबा ने शिरडी में 1918 में समाधि ली।  
हिंदू पंचांग के अनुसार माना जाता है कि 22 अक्टूबर को शिरडी के साईं बाबा का निर्वाण दिवस था। 1918 में दशहरा के दिन उन्होंने आखिरी सांस ली थी। इससे पहले वे कई दशक शिरडी में रहे और इस दौरान कई चमत्कार किए। लोग कहते हैं कि साई बाबा ने कहा था कि एक समय आएगा जब शिरडी में दूर दूर से लोग आएंगे। आजकल साईं मंदिर में चार समय आरती होती है। ये है काकड़ आरती ( प्रातःकालीन), मध्याह्न आरती, धूप आरती और सेज आरती।

साईं मंदिर से ही खरीदें प्रसाद - शिरडी के साईं मंदिर में ट्रस्ट का अपना प्रसाद काउंटर है। आप पेड़े आदि वहीं से खरीदें। मंदिर के अंदर कैमरा मोबाइल आदि प्रतिबंधित है। इन्हें जमा करने के लिए बाहर काउंटर बने हैं। मंदिर में प्रवेश के लिए तीन द्वार हैं। आप कहीं से भी प्रवेश कर सकते हैं। साईं बाबा महान संत थे। लोग उन्हें कबीर की श्रेणी में मानते हैं।



अपने सरल संदेशों के कारण साईं बाबा अमीर गरीब, हिंदू मुसलमान सबके बीच लोकप्रिय हैं। उन्होंने सभी जीवों के प्रति श्रद्धा रखने और सब्र करने का संदेश दिया। इसलिए उनके मूर्ति के आगे लिखा होता है – श्रद्धा सबूरी। अगर हम उनके संदेश को माने तो आपस में होने वाली लड़ाइयां बिल्कुल बंद हो सकती हैं। आज देश के हर शहर में साईं बाबा के मंदिर बन चुके हैं। और देश भर से सालों पर साईं भक्तों का शिरडी आने का सिलसिला चलता रहता है।

देश भर में साईं बाबा का गुणगान करने वाले गीतकारों की लंबी संख्या है। कई फिल्मी सितारों ने साईं बाबा में आस्था जताई है, इनमें फिल्म स्टार मनोज कुमार प्रमुख हैं। हर भाषा में साईं बाबा के भजन गाए जाते हैं। अब तो साईं जागरण और साईं चौकी की शुरुआत हो चुकी है।
 --- -माधवी रंजना

( SHIRDI, SAI BABA, MAHARASTRA ) 



No comments:

Post a Comment