Thursday, October 25, 2012

इगतपुरी में महाराष्ट्र का बड़ा पाव

गोली बड़ा पाव बन चुका है बड़ा ब्रांड। 
दक्षिण की ओर हमारी यात्रा का दूसरा दिन है। मंगला लक्षदीप एक्सप्रेस में सुबह हुई तो मनमाड और नासिक जैसे रेलवे स्टेशन पीछे छूट चुके थे। मनमाड शिरडी के साईं बाबा जाने के लिए नजदीकी रेलवे स्टेशन है। इसके बाद इगतपुरी नामक रेलवे स्टेशन आता है जहां मंगला का लंबा ठहराव है। इगतपुरी में ट्रेन 20 मिनट रूकी। यहां सुबह नास्ते में मिला महाराष्ट्र का प्रसिद्ध बड़ा पाव। 15 रुपये में दो बड़ा पाव। कहीं 20 रुपये का तीन तो कहीं सात रुपये का एक भी। अनादि और माधवी को बड़ा पाव खूब पसंद आया। कई साल पहले मैं मुंबई पहुंचा था तब बड़ा पाव पांच रुपये में दो मिलता था। बड़ा पाव पर भी महंगाई का असर पड़ा है लेकिन अभी भी ये देश कई राज्यों की तुलना में सस्ता नास्ता है। नास्ते बाद ट्रेन चल पड़ी। थोड़ी देर बाद ट्रेन ने मुंबई की सीमा को छू लिया। मुंबई में कल्याण और ठाकुर्ली के बाद आता है पनवेल।

पनवेल में भी ट्रेन 10 मिनट से ज्यादा रूकी। पनवेल के बाद शुरू हो जाती है कोंकण रेल की सीमा। राजेश चौधरी बताते हैं कि वे अपनी कालीकट में चार साल की पढ़ाई के दौरान कई बार कालीकट आना जाना कर चुके हैं। ट्रेन के तीन दिन के सफर में अगर अच्छे सहयात्री मिल जाएं तो सफर और यादगार हो जाता है। राजेश लंबी यात्रा के लिए अपनी मां से गुझिया और नींबू का अचार बनवा कर लाए हैं। हम सबको उनकी गुझिया और अचार का स्वाद खूब पसंद आया।


थोड़ी सी चर्चा बड़ा पाव की। अब महाराष्ट्र का बड़ा पाव राज्य की सीमा से बाहर निकल कर बड़ा ब्रांड बन चुका है। गोली बड़ा पाव समेत कई ब्रांड के स्टोर राज्य से बाहर खुल चुके हैं। साल 2004 में गोली बड़ा पाव ने अपना पहला ब्रांडेड स्टोर मुंबई के कल्याण इलाके में खोला। अब इसके 350 से ज्यादा स्टोर 19 राज्यों के 88 शहरों में खुल चुके हैं। इस स्टोर की कल्पना शिवदास मेनन ने की थी। गोली के कई स्टोर दिल्ली एनसीआर में खुल चुके हैं। 

पुणे और औरंगाबाद में छोटू कोल्हापुरी की है धूम। 
गोली वडा पाव में एक क्लासिक बड़ा पाव की कीमत 25 रुपये है। कीमत की लिहाज से ये फुटपाथ के स्टाल पर बिकने वाला बड़ा पाव से तीन गुना महंगा है। इसके अलावा आप कई वेराइटी का स्वाद ले सकते हैं यहां। अब गोली बड़ा पाव ने होम डिलेवरी भी शुरू कर दी है। 

बड़ा पाव में दूसरा बड़ा ब्रांड जंबो किंग है। ये ब्रांड 2001 में आरंभ हुआ था। जंबो किंग बड़ा पाव के आठ के आसपास ब्रांड बेचता है।  बड़ा पाव का तीसरा ब्रांड है छोटू कोल्हापुरी। औरंगाबाद और पुणे में छोटू कोल्हापुरी के स्टोर देखने को मिले। इसकी दरें भी वाजिब है। हालांकि छोटू कोल्हापुरी की स्वाद थोड़ा तीखा है।
बडा पाव मुंबई का सबसे लोकप्रिय फ़ास्ट फूड या यूं कहें की स्ट्रीट फूड है, जो युवाओं के बीच में भारतीय बर्गर के रूप में भी जाना जाता है। इसे बनाना बहुत ही आसान है। पाव को बीच में से काटकर हरी चटनी और सूखे लहसुन की चटनी लगा जाती है और फिर बटाटा (आलू) वडा बीच में रखा जाता है। अपनी सादगी और स्वाद के कारण ही आज वड़ा पाव मुंबई से बाहर भी अपनी पहचान बना चुका है। 

- - vidyutp@gmail.com

( RAIL, KERLA, PANWEL, MAHARASTRA, BADA PAV ) 

No comments:

Post a Comment