Saturday, November 16, 2013

राजगीर का विश्व शांति स्तूप

 राजगीर की पांच पहाड़ियों में से एक पर बना है विश्व शांति स्तूप। ये शांति स्तूप राजगीर का प्रसिद्ध पर्यटक स्थल और आस्था का केंद्र है। शाक्यमुनि गौतम बुद्ध की 2600वीं जन्म तिथि के मौके पर इस विश्वशांति स्तूप का निर्माण 1978 में कराया गया। तब भारत के प्रधानमंत्री रहे मोरारजी देसाई ने इसका उदघाटन किया था। कोलकाता की कंपनी मैंकिटोस बर्न ने इसका निर्माण किया। इसका डिजाइन वास्तुकार उपेंद्र महारथी ने तैयार किया था। स्तूप का गुंबद 72 फीट ऊंचा है जबकि व्यास 142 फीट और ऊंचाई 125 फीट है। 18 महीने में 10 हजार श्रमिकों ने इस स्तूप को तैयार किया था। तब इसके निर्माण में 18 लाख की लागात आई थी। जापान के बौद्ध संगठनों से सहयोग से बने इस शांति स्तूप के बगल में एक बौद्ध मंदिर भी बना है।
बिहार में अब चार जगह शांति स्तूप हो गए हैं वैशाली, पाटलिपुत्र, राजगीर और गया। इन चारों शहरों की दूरी भी ज्यादा नहीं है। इन सबको जोड़कर बुद्धिस्ट सर्किट नाम दिया गया है। इन सबको जोड़ने के लिए ट्रेन चलती है बुद्ध पूर्णिमा एक्सप्रेस जो वाराणसी के सारनाथ से चलती है। हालांकि ये वैशाली नहीं जाती।

रोप वे या रज्जू मार्ग विश्व शांति स्तूप तक जाने के लिए डेढ़ किलोमीटर लंबा रज्जू मार्ग है। हां वही रोप वे। राजगीर के रोपवे में हर कुरसी पर सिर्फ एक ही व्यक्ति बैठ सकता हैं। ये खुला हुआ भी इसलिए बच्चों और कमजोर दिल वालों को थोड़ा डर लगता है। मैं दिसंबर 2002 में अपनी पहली राजगीर यात्रा के दौरान जब रोपवे से चला तो रास्ते में बिजली चली गई। तब करीब 20 मिनट हवा में ही लटका रहा।

आपको पता है पूरे देश में रोपवे के निर्माण और संचालन का काम उषा मार्टिन नामक कंपनी देखती है। इस कंपनी का लोहे की रस्सी बनाने में मोनोपोली है।

हरिद्वार में मनसा देवी और चंडी देवी रोपवे भी यही कंपनी चलाती है। हालांकि राजगीर में चेयरलिफ्ट या रोपवे का संचालन बिहार सरकार का पर्यटन विभाग करता है। इसमें एक कुरसीनुमा लिफ्ट पर एक ही आदमी बैठ सकता है। खुला होने के कारण पहाड़ी घाटी से गुजरते वक्त भय और रोमांच दोनों होता है। आजकल चेयर लिफ्ट का आने जाने का किराया 60 रुपये प्रति व्यक्ति है। आप लौटते वक्त तक टिकट संभाल कर रखें। 

वैसे आप शांतिस्तूप तक पैदल के मार्ग से ट्रैकिंग करते हुए भी जा सकते हैं। दुनिया भर से बौद्ध श्रद्धालु राजगीर आते हैं शांति स्तूप देखने। विश्व शांति स्तूप की ऊंचाई से राजगीर के नजारे देखना बड़ा ही आनंदकारी है।
और ज्यादा जानकारी के लिए आप 
बिहार टूरिज्म की वेबसाइट पर भी जा सकते हैं। इसका पता है -  http://bstdc.bih.nic.in/Rajgir.htm

-    - 
   ----- विद्युत प्रकाश मौर्य 

  ( BIHAR, RAJGIR, BUDDHA, NALANDA, ROPE WAY )

No comments:

Post a Comment